ESIC KYA HAI? ईएसआई की पूरी जानकारी

ESIC KYA HAI? ईएसआई की पूरी जानकारी

साधारण शब्दों में कहें तो ESIC employees state insurance corporation अर्थात कर्मचारी राज्य बीमा निगम एक ऐसी स्वास्थ्य बीमा कराने की व्यवस्था है जिसमें सभी प्रकार के कर्मचारी जो किसी ऐसी संस्था में कार्यरत हैं जिसमे 10 या 20 से अधिक कर्मचारी हैं उनके स्वास्थ्य की बीमा कराने की व्यवस्था से है| ESI के अंतर्गत जमा होने वाला वित्त कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा ईएसआई एक्ट 1948 के दिशा निर्देशों के अनुसार प्रबंधित किया जाता है और कर्मचारी राज्य बीमा निगम भारत सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अधीनस्थ है|

ESIC ke benifite/Esi के फायदे

1.ईएसआई में पंजीकृत व्यक्ति अपने तथा अपने परिवार के सदस्य का चिकित्सा उपचार कराने का हकदार होता है

2.चिकित्सा सुविधा हेतु डिस्पेंसरी इसका उपलब्ध होना

3.ईएसआई हॉस्पिटल में गैस बेनिफिट और कैशलेस सेवा का उपलब्ध होना

4.महिला कर्मचारी मातृत्व लाभ लेने के पात्र होंगे

5.कुछ निश्चित परिस्थितियों में व्यक्ति इस अधिनियम के तहत बेरोजगारी भत्ते के लिए पात्र होगा

ESIC KYA HAI? ईएसआई की पूरी जानकारी
ESI ACT RULES

1.ESI ACT के तहत यदि कोई संस्था इस स्कीम के तहत पहली बार कार्यान्वित होगी इस स्थिति में नियोक्ता और कर्मचारी का योगदान अगले 2 वर्षों अर्थात 24 महीनों के लिए निम्नवत होगा|नियोक्ता का अंशदान 3% कर्मचारी का अंशदान 1%

2.24 महीने पूर्ण होने के बाद अंशदान कुछ इस प्रकार से होगा नियोक्ता का अंशदान 4.75% कर्मचारी का अंशदान 1.75%

3.इस स्कीम के तहत 21000 या 21000 से कम वेतन पाने वाले लोगों का पंजीकरण अनिवार्य है इसके अलावा वह लोग जिनके 21000 से अधिक वेतन है वह यदि चाहे तो इस ESI ACT 1948 के तहत स्वेच्छा से पंजीकृत हो सकते हैं|

4.कोई भी स्थापित संस्था, कंपनी अथवा फैक्ट्री इत्यादि जिनमें कर्मचारियों की संख्या 10 या 10 से अधिक कुछ राज्यों में 20 हो ESI ACT 1948 और EPF ACT के तहत पंजीकरण लेना आवश्यक है|

ESI के तहत मुफ्त ईलाज
कर्मचारियों के लिए एक बहुत बड़ा सहायता हो जाता है जब इसके तहत कर्मचारी को मुफ्त में इलाज करवाने की सुविधा दी जाती है और कुछ मामलों में कर्मचारी को बेरोजगारी भत्ता भी दिए जाते हैं अर्थात कर्मचारी काम करने योग्य ना हो तो उसे घर बैठे वेतन दिया जाता है लेकिन यह कुछ निश्चित समय के लिए होता है|

“ESIC KYA HAI? ईएसआई की पूरी जानकारी”

ESI से ईलाज कैसे करायें?
ईएसआईसी से मुफ्त इलाज करवाने हेतु आपके क्षेत्र में ESI की डिस्पेंसरी अथवा हॉस्पिटल होगी| आम दवाइयां हेतू जैसे सर्दी-खांसी-जुकाम डिस्पेंसरी से अपना ESI कार्ड अथवा कंपनी से लाई गई दस्तावेज से तुरंत दवाइयां ले सकते हैं और यदि बड़ा इलाज करवाना हो जैसे ऑपरेशन,डिलीवरी  इत्यादि बड़े इलाज के लिए सबसे पहले अपने नजदीकी डिस्पेंसरी से अपने ईएसआई कार्ड अथवा कंपनी से लाए गए दस्तावेज के अनुसार बड़े ESI हॉस्पिटल में भर्ती के लिए FORM 4 बनवा लें फिर उस बड़े हॉस्पिटल में जाकर मरीज को भर्ती करा कर उसका इलाज करवा सकते हैं|

ESI में अन्य सुविधायें-
ESI डिस्पेंसरी में आमतौर पर सर्दी,जुकाम,खांसी जैसे बीमारी हेतु दवाइयां दी जाती हैं किंतु मुख्य ईएसआई हॉस्पिटल में इलाज के सभी सुविधायें रहती हैं|तथा साथ देने वाले व्यक्ति के लिए तथा मरीज हेतु भोजन,रहने,सोने की भी व्यवस्था होती है तथा एंबुलेंस भी होती है हॉस्पिटल में हर तरह की सुविधा प्रदान की जाती है|

Yogesh Nayak: Hiii Friends, i am Yogesh Nayak author of this website,and i tried to help all indians,about epf/uan/pension/edli and esic benifits.i also try to give you tutorials,information and answer your questions.i hope you help me. Lot of thanks.....

View Comments (254)

    • जी हां यदि आप ईएसआईसी के अधिनियम के तहत आते हैं तो आप भी ईएसआईसी का लाभ ले सकते हैं

  • Esic ke treatment se satisfied na hone par kya kare patient admit hai par din par din uska halat kharab ho raha hai kya kare